Computer Hardware Ki Puri Jankari Hindi me

नमस्कार मित्रो हिंदी Computer और Blogging में आप का स्वागत है तो जैसे की हम ने आप को last time बताया था की बहोत ही जल्द हम Youtube पर एक Channel start करने वाले है जिसका नाम Mumbaisala होगा तो उसी काम के वजह से हम पिछले १० दिनों से लगे हुए थे और आखिर कार हमारा चॅनेल का काम ख़तम हुआ है याने की Internet पर हम ने Youtube के लिए पहिला video upload कर दिया है और दोस्तों यह हमारी शुरवात है और शुरवाती दिनों में एक New youtuber को बहोत public support की जरूरत होती है और हम उम्मीद करते है की आप हमे जरूर Support करेंगे और हमारे चॅनेल के Subscriber और View बढ़ाने में हमारी मदत करेंगे


अगर आप हमारे Youtube Channel को देखना चाहते है तो निचे दिए बटन पर Click करे और Subscribe & Share जरूर करे क्यों की sharing is caring ना… 😀

My YouTube channel

 

Computer Hardware Ki Puri Jankari Hindi me

 

अगर आप रोज़ाना computer इस्तिमाल करते है तो आप को Computer hardware के बारे में पता होना बहुत जरूरी है क्यों की क्या पता कब आप का computer बंद हो जाये और भगवान ना चाहे ” अगर किसी important काम करते – करते आप का computer काम करना बंद कर देता है तो सोचो आप का कितना बड़ा नुकसान हो सकता है ” हाँ वो बात अलग है की अगर आप के नजदीक कोई computer Repairing का Shop है तो आप वहा जाकर आपने problem का solution निकाल सकते हो पर अगर आप के पास ही वो सारी जानकारी हो जो वो Computer वाला आकर आप के computer में करनेवाला है तो आप का problem कितने आसानी से Solve हो सकता है ना…!  और तो और आप के पैसे भी बच जायेंगे 🙂 तो इसी सोच के साथ और हमारे Regular readers के Comment के बाद आज हम Computer hardware के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में आप के साथ Share करने वाले है

अगर आप भी कंप्यूटर के हार्डवेयर में रूचि रखते हो और आप भी यह सब जान ना चाहते है तो यह Post आखिर तक पढ़े और post को शेयर करना ना भूले। क्यों की Sharing is Caring ना…

दोस्तों अगर आप निचे दिए image में देखोगे तो हम ने Computer का एक Simple सा overview दिया है जहा आप Computer के main components को देख सकते है जिस में Desktop computer, Flat-panel display, Speakers, Keyboard,Mouse और Input & output Device है और यह Component ही Computer को Complete Computer बनाती है

 

 

अब बात आती है Computer History की तो बहोत से लोगों को Computer के history के बारे में कुछ भी पता नहीं होता है जैसे की computer kaise bana ,computer kya hai ,computer kaise kam karata है और बहोत कुछ पर अगर आप computer के History याने इतिहास में रूचि रखते हो तो निचे दिए link पर click कर के computer के history के बारे में पता कर सकते हो जिसका आप को आगे जाकर जरूर फायदा होगा

Computer Hardware Yane kya

 

दोस्तों अगर Computer Hardware की बात करे तो Hardware उसे कहते है जिसे हम physically रूप से छू सकते है जैसे की Computer,Keyboard,mouse इन सारे Devices को हम आपने हाथो से छू सकते है इसके सिवाय इन Devices को अपना काम करने के लिए उनमे एक खास तरह का circuit board को भी design किया जाता है जिस पर IC (integrated Circuit) , chip ,Coil जैसे electronics’s Component भी होते है और इन सब के मिलन को कंप्यूटर का Hardware कहा जाता है

बिना Computer Hardware के कोई भी Software इस industry में exist नहीं कर पाती थी क्यों की जभी कोई Software Design किया जाता है तो वे किसी Particular hardware को ही target बनाकर create किया जाता है जैसे की मानलो Computer हमारा Hardware है अब उसे Access करने के लिए हमारे पास एक Software की जरूरत लगेगी क्यों की Computer हम human की langues समझ नहीं पाते है फिर engineer,s ने Window नाम का operating System बनाया जिसे हम computer के hardware से मिलाकर उसपर काम कर सके याने की यहां एक बात clear है अगर Hardware नहीं तो Software भी नहीं

दोस्तों अब Computer Hardware की बारे में जाने तो computer hardware के 2 type है जैसे की

  1. External hardware
  2. Internal hardware

 

External hardware in Hindi

 

जिन Hardware को computer के outside याने की बाहरी बाजु से इस्तिमाल किया जाता है उसे External hardware कहते है जैसे की

 

1] Flat-panel, Monitor, and LCD :

 

 

Computer monitor या Display जिसे English में Visual Display Unit भी कहते है यह एक electronic Display device है पाहिले के Monitor में display unit के साथ एक भारी body आती थी जिसे हम CRT कहते थे जो किसी पुराने TV जैसे दिखते थे पर जमाने के चलते technology update होते चली गयी जैसे की CRT (Cathode ray tube) के बाद TFT-LCD (thin film transistor liquid crystal display) आ गए जिस की screen और Size CRT Monitor के मुकाबले बहोत पतली है ..और आज LED का जमाना चल रहा है जिस में [ Light-Emitting Diode ] का इस्तिमाल किया जाता है

 

2] Joystick

 

Joystick एक तरह का input device है जिसका इस्तिमाल कर के user,s game खेलते समय किसी भी character या players को आपने हाथो से control कर सकता है most of Time इन Devices को बच्चे या game में रूचि रखने वाले User ही बहोत इस्तिमाल करते है | दुनिआ का पहिला joystick C.B.Mirick and patented ने 1926 में U.S. Naval Research Laboratory किया था और तब से लेकर आज तक game Lover इस device का इस्तिमाल जोरो से करते है

 

3] Keyboard

 

 

Computer keyboard primary input devices है जिस के बिना Computer को इस्तिमाल करना impossible है | Computer Keyboard की बात करे तो यह Keyboard पुराने electric typewriters की तरह ही दिखते है पर इनमे कुछ additional function है जैसे की Computer keyboard में number ,letter ,symbol के Extra Buttons है जिसका इस्तिमाल computer को command देने में इस्तिमाल किया जाता है

 

4] Microphone

microphone को हम Mic भी कहते है जिसके जरिये हम किसी भी तरह के Sound, voice, Music को record कर के computer में save कर के रख सकते है in short में कहे तो अगर हमे high sound qulity recording चाहिए तो हम microphone का इस्तिमाल कर सकते है इसके सिवाय online calling के लिए भी microphone इस्तिमाल किया जाता है

1877 में Emile Berliner ने microphone का invention किया था.

 

5] MOUSE


computer mouse एक handheld hardware input device है जिसे हम एक cursor के द्वारा Control कर सकते है याने की किसी भी text file या icon को एक जगह से दूसरे जगह Move करना हो या किसी Folder को open करना हो तो हमे mouse का इस्तिमाल करना पड़ता है

LED Mouse के निचे sensor लगे होते है जो flat surface पर ही काम करते है जैसे की mouse pad या a desk पर याने की अगर Next Time से आप का mouse काम करना बंद कर दिया तो direct mouse को change “ना” करना उसे पहिला flat surface पर चलाके देखे फिर mouse को change करीये

mouse का invention 1963 में Douglas Engelbart ने किया था.

 

6) Printer

 

Printer एक तरह का External output device है जो computer या other device से electronic data लेकर उसे hard copy में convert करती है अगर सीधे भाषा में कहे तो अगर मानलो आपके पास कोई pdf फाइल है जिसमे आप का Resume है पर वे resume आपके computer में है और उसे आप को किसी पेपर पर चाहिए तो ऐसे वक्त आप printer के मदत से उसे Soft copy याने Computer में save Resume को hard copy में याने किसी paper पर ले सकते हो

दोस्तों Printer एक most popular computer peripherals है जिसे बड़े प्रमाण में text and photos को Print कराने में इस्तिमाल किया जाता है

आप निचे printer के type देख सकते है जिसे अलग -अलग कामो के लिए इस्तिमाल किया जाता है पर इनमे भी Most popular printer को Point करे तो Inkjet and Laser printers यह और से मुकाबले ज्यादा इस्तिमाल किये जाते है

  • 3D printer
  • All-in-one (AIO) printer
  • Dot matrix printer
  • Inkjet printer
  • Laser printer
  • LED printer
  • Multifunction printer (MFP)
  • Plotter
  • Thermal printer

 

7] Projector

प्रोजेक्टर output Device है जो Computer ,Laptop या Blue -ray player द्वारा images को लेकर उसे किसी भी दिवार पर show करवा सकता है जैसे की आपने Collages ,computer room में प्रोजेक्टर को देखा ही होगा जो कंप्यूटर के small Screen को projector के मदत से किसी दिवार पर large size में दिखा रहे होते है तो बस projector का यही काम है और इसका इस्तिमाल ज्यादा तर Office ,collages ,school , computer class रूम में presentation के लिए किया जाता है.

 

8) Speaker

speaker के बारे में हर किसी को पता है की speaker का इस्तिमाल Sound के लिए किया जाता है और यह एक hardware device है

 

Internal hardware in Hindi

 

जिन Hardware को computer के Inside याने की Computer के भीतर इस्तिमाल किया जाता है उसे internal hardware कहते है

 

1] Processor (CPU)

 

प्रोसेसर को central processor, या microprocessor भी कहा जाता है यह Processor Computer के Hardware और software के हर instructions Receive कर के system को handle करता है और इसीलिए processor को Computer का brain भी कहा जाता ही पाहिले के ज़माने में processor पर hundreds connector pins हुआ करते थे जिसे Motherboard के ऊपर लगे Socket में लगाना पड़ता था पर समय के चलते processor में बहोत उन्नति हुयी है आज हम motherboard पर पाहिले से लगे in build processor देख सकते है

market में 2 Company processor की manufacturing करती है

  1. Intel
  2. AMD

और इन दोनों में से ज्यादा तर User’s Intel के processor इस्तिमाल करना पसंत करती है

 

2] Motherboard

motherboard को mb, mainboard, mboard, mobo, mobd, back plane board, base board, main circuit board, planar board, system board, या logic board भी कहा जाता है यह motherboard printed circuit board होता है जिस पर कही तरह के electronic component लगे होते है जैसे की निचे दिए image में आप motherboard के Overview को देख सकते हो जहा multiple Port , IC ,Chip ,electronic Part लगे है

computer के जितने भी hardware part है वो आखिर में motherboard से ही connect होते है जैसे की → Hard Disk →  DVD →  SMPS →  keyboard →  Mouse .etc

 

3] Hard Disk

hard disk को HD ,Hard drive भी कहते है यह एक तरीके का non-volatile memory hardware device है जिस में हम किसी भी Data को permanent रूप से store कर के रख सकते है

Hard disk के अंदर platter होते है और एक magnetic head जो हमारे Data को save करने का काम कर रहा होता है अगर आप ने Hard disk में कोई भी डाटा याने Song ,video ,document जैसे file Save कर के रखी है तो वे आपके Hard Disk से कभी भी delete नहीं होगी पुराने ज़माने में hard disk नहीं होती थी उसके जगह Floppy disk का इस्तिमाल किया जाता था जहा कोई भी User 4 से 5 MB (mega byte) तक ही डाटा Save कर के रख सकता था पर समय के चलते और Users की Need को देखते कंपनी ने Hard disk का अविष्कार किया जहा डाटा save करने के लिए GB (gigabyte) का इस्तिमाल होने लगा और आज कल market में 2 और 3 Tb (Terabyte) के भी hard disk मिलने लगे है…

 

4] DVD

DVD का full forum Digital Versatile Disc या Digital Video Disc है जिसका इस्तिमाल data को save करने के लिए किया जाता है ,किसी भी DVD या CD को Read करने के लिए computer में CD writer का होना बहोत जरूरी है दोस्तों market में 4 type के DVD disk Available है जैसे की

  • एक वो जो total 4.7Gb की होती है जिसे all most सारे users इस्तिमाल करते है जो single-sided, single-layer disc होती है
  • एक वो जो total 8.5-8.7 GB की होती है जो single-sided, double-layer disc layer disc होती है
  • एक वो जो total 9.4 GB की होती है जो double-sided, single-layer disc होती है
  • बहोत कम इस्तिमाल करने वाले Disk 17.08 GB की है जो double-sided, double-layer disc होती है

 

 5] FAN

 

 

Cpu fan एक hardware device है जिसका इस्तिमाल processor को ठंडा रखने के लिए किया जाता है किसी भी Fan को RPM (Revolutions per minute) measure किया जाता है याने जिस Fan की RPM ज्यादा उस fan की speed ज्यादा

दोस्तों कंप्यूटर में इस्तिमाल करने वाले कुछ Common fan है जिसे आप निचे देख सकते हो

  • Case Fan
  • CPU Fan
  • Power Supply Fan
  • Video Card Fan

 

6] RAM (Random Access Memory)

 

 

RAM को main memory या system memory, Random Access Memory भी कहा जाता है यह एक hardware Device है जो कंप्यूटर की सब से Fasted memory होती है यह Primary Memory होती है जो direct आप के Computer के Motherboard पर लगे Chip set याने north bridge से connect होता है और यह north bridge आपके processor से जुड़ा होता है , अब अगर आप का computer चालू है और आप उसपर कोई task कर रहे है हो जैसे की किसी Software पर काम कर रहे हो या Game खेल रहे हो तो ऐसे में अगर उस processor(cpu) को वे task पूरा करने के लिए जितना भी data चाहिए होता है वो सारा डाटा temporary base पर ram में store होता है

आप केवल इतना जान लो की ram एक temporary memory है जो Computer के On status में ही काम कराती है और जब कप्यूटर बंद हो जाता है तो वे सारी memory erase हो जाती है|

 

7] power supply [SMPS]

 

AC को DC में convert करने का काम power supply का होता है और computer में लगे सारे hardware part and component को power देने का काम भी power supply का होता है | power supply को SMPS (Switched-mode power supply) भी कहा जाता है

अगर computer में SMPS ना होता तो Computer कभी On नहीं होता | और अगर आप के पास computer है और वो चालू नहीं हो रहा है तो हो सकता है आपके कंप्यूटर का power Supply ख़राब हो चूका है उसे change कर के देखे sure आप का Computer शुरू हो जायेगा

 

8] Network Card ,Video card ,Sound Card 

 

 

दोस्तों कंप्यूटर के जितने भी card आते है जैसे की Network Card ,Video card ,Sound Card यह Additional uses के लिए इस्तिमाल किये जाते है जैसे की मान लो की हमे office के लिए एक Small network group बनाना है तो Onboard motherboard पर एक ही Lan port होता है जिस के जरिये हम computer में इंटरनेट इस्तिमाल करते है पर अगर हमे उस internet को किसी और के साथ share करना है तो हम हमारे कंप्यूटर में एक LAN card लगा कर किसी और के साथ अपना internet शेयर कर सकते है

उसके सिवाय Lan card का ज्यादा तर इस्तिमाल तब होता हैं जब आपके onboard motherboard का Lan port ख़राब हुआ है तो क्यों की अगर आपके onboard motherboard का Lan port ख़राब हो जाता है तो आप उसमे इंटरनेट का इस्तिमाल नहीं कर सकते है तो ऐसे situation में हम external Lan card का इस्तिमाल कर सकते है

और उसी तरह इन video card और USB card और sound card का इस्तिमाल किया जाता है

 

दोस्तों उम्मीद करते है की आप को हमारा यह post पसंत आया होगा तो इसे Share और Like करना ” ना ” भूले और हमारे youtube channel को जरूर Subscribe करे.

4 COMMENTS

  1. sir actually maine cms it training institute se hardware and networking ka course kiya tha jiske unhone hmko 37000 rs. btaye the maine 28000 rs. jamaa kr diye the and kuch or fee nhi de paya par mera course full ho gyA PR AB BO log hmko certificate nahi de rahe
    DEll ke services center me meri job lag gayi hai but bo ab certificate ki demand kar rahe hai sir koi tarika hai jis se me certificate paa saku
    sir pls help me

    • ek tarika hai Amit Aap ko institute me Jakar unse bath karni hogi unhe kehana hoga ki kisi problem ke vajah se me puri fees de nahi paya hu par ab muze job lag gayi hai aur muze vaha se certificate ki demand kar rahe hai plz Aap muze certificate de dijiye jis ke vajah se meri JOB sabut rahegi .kyo ki meri financing condition thik nahi hai aur agar yah job bhi chale jayegi to bahot badi problem create hogi so Plz muze certificate chahiye to me aapne sallery se Aap ko next month me puri fees paid kar dunga …Aap ko Aisa bolkar Samane wale par emotional atyachar karna hoga ..aur thodi Acting karna hoga jis se 100% aap ko certificate milane ke chances hai …kyo ki koe bhi institute studentka nuksan nahi karati hai

      agar yah tarika tumhe pasant nahi hai to Aap mere jaisa kar sakate ho jaha hum ne friend ka certificate lekar same uske certificate jaisa duplicate certificate Corel draw Software se banakar Job interview me present kiya tha kyo ki job ke jagah we bas Aap ka cirtificate dekha te hai na ki QR code aur stam..aap chahiye to uska Xerox bhi lekar ja sakate ho aur Dell wale ko bol sakate ho ki mera orignal GHUM ho gaya hai aur mene uska xerox nikal kar rakha tha aur yah lo uska xerox aur agar unhe koe doubt aata hai to aap unhe kah sakate ho ki chahiye to aap mere class me call kar ke dekh lijiye ki mene vaha se class puri ki hai nahi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here