Google ka CEO kaun Hai (2022) गूगल के सीईओ कौन है

Google ka ceo kaun hai : दुनिआ में अलग अलग सर्च इंजिन उपलब्ध है लेकिन दुनिआ का नंबर वन सर्च इंजिन गूगल है

और बेशक गूगल के बारे में पता होगा ही की गूगल के मदत से हम घर बैठे दुनिआ के किसी भी कोने की जानकारी चुटकी में हासिल कर सकते है साथ ही गूगल का इंटरफ़ेस इतना आसान है जिसे बिना तकनीकी जानकारी रखने वाला उपभोक्ता भी आसानी से Google को इस्तिमाल कर सकता है

हम सभी को यह तो बात पता है की दुनिआ का Number 1 सर्च इंजिन गूगल है,  लेकिन क्या आप को पता है Google ka CEO kaun Hai यदि नहीं तो निश्चिंत रहे गूगल का CEO भारतीय है

और इस बात का हमे अभिमान है की गूगल जैसे अंतराष्ट्रीय सब से बड़े कंपनी का CEO एक भारतीय है और इसी भारतीय गूगल के सीईओ के बारे में आज हम विस्तार में जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करनेवाले है

यदि आप भी जानना चाहते है की Google ke asali CEO ka Naam क्या है तो इस लेख को शुरवात से अंत तक जरूर पढ़े जिसमे हम ने गूगल के सीईओ के बारे में काफी रोचक जानकारी शेयर करने की कोशिश की है

 

Google ka CEO kaun Hai (2022) गूगल के सीईओ कौन है

 

Google ka CEO kaun Hai
Google ka CEO kaun Hai

 

गूगल क्या है – Google kya Hai 

गूगल एक अमेरिकी बहुत देशों में बसी टेक्नोलॉजी पर केन्द्रित कंपनी है यह आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस पर आधारित है इसे दुनिया की सबसे मजबूत और बड़ी कंपनी भी बन गया है

इनती  बड़ी और ताकतवर कंपनी को चलाने वाले लोग कैसे होंगे आप अंदाज़ा तो लगा ही सकते है गूगल का CEO कौन है, कैसा है आदि सवाल भी होंगे हम आज आपके हर तरह के सवाल का जवाब देंगे

गूगल के पास सबसे BEST सर्वर तो है ही पर क्या आप जानते है गूगल के पास सुपर Computer से भी तेज़ Computer है

जिसे Quantum Computers कहा जाता है, यह Computer सुपर Computer से भी लाखों गुना तेज है आज आप गूगल पर जो सर्च करते है

उससे जुड़े सभी चीज़ों का आपके सामने आ जाना आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस (AI) की वजह से ही संभव हो पाया है

गूगल का अभी तक का सबसे बड़ा सर्च इंजन है, गूगल पर एक मिनट में 38 लाख से ज्यादा Keyword सर्च होते है, गूगल पर उसके हर एक यूजर की जानकारी है और गूगल इस टाइम का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला सर्च इंजन है

गूगल पर शौपिंग की सुविधा भी है, हर तरह की ऑनलाइन प्लेटफार्म से जुड़ा हर डाटा गूगल पर मौजूद है ! गूगल से आज लाखो कंपनियों का बिज़नस चल रहा है

गूगल को September 4, 1998 को बनाया गे था इसका निर्माण लार्री पेज और सेर्गे ब्रिन द्वारा किया गया था 2015 को गूगल को अल्फाबेट का भी पूर्ण अधिकार मिल गया

 

गूगल का CEO कौन है – Google ke CEO ka Naam kya Hai 


Google ka CEO kaun Hai (2022) गूगल के सीईओ कौन है


 इस समय गूगल के CEO सुंदर पिचाई है 

सुन्दर पिचाई इस समय अर्थात 2022 में गूगल और अल्फाबेट दोनों कंपनी चला रहे है


जन्म और नाम 

  • सुंदर पिचाई का पूरा नाम सुन्दराजन पिचाई है
  • जन्म 10 जून 1972 को तमिलनाडु के मदुरई मे हुआ था
  • पिता का नाम रघुनाथ पिचाई है और माता का नाम लक्ष्मी पिचाई है

राष्ट्रीयता 

यह एक भारतीय है जिनके पास अभी अमेरका का राष्ट्रीयता है, हम कह सकते है की यह भारतीय और अमेरिकन दोनों है इनका जन्म भारत में हुआ इन्होने अपना काफी जीवन भी भारत में गुज़ारा है


पत्नी और बच्चे 

सुंदर पिचाई की पत्नी का नाम अंजलि पिचाई है यह इनके साथ इनके कॉलेज में पढती थी और काफी साल सुंदर पिचाई को डेट करने के बाद इन दोनों ने शादी की

इन दोनों का एक लड़का और एक लड़की भी है लड़की का नाम काव्या पिचाई है और लड़के का नाम किरण पिचाई है


नेट वर्थ 

सुंदर पिचाईकी नेट वर्थ 9555 करोड़ है और ये आकडा 2022 का है


वर्तमान में Google के CEO सुंदर पिचाई की शिक्षा

बचपन से ही सुंदर पिचाई के बहुत ही समझदार और जीनियस किसम के बच्चे थे जिनका ध्यान केन्द्रित था, इन्होने अपनी शुरवाती पढाई चेन्नई के एक विद्यालय से की थी जिस विद्यालय का नाम जवाहर नवोदय विद्यालय था

इन्होने अपनी 11 औए 12 की शिक्षा वना वाणी स्कूल से प्राप्त की

यह बहुत ही होनहार विद्यार्थी थे इनकी चीजों को याद करने की क्षमता बहुत ज्यादा थी और तो और ये नंबर को बहुत आराम से याद रख पाते थे

इन्होने अपनी मास्टर ऑफ़ बिज़नस एडमिनिस्ट्रेशन(MBA) की पढाई पेंस्य्ल्वानिया यूनिवर्सिटी से की इसके बाद उन्होंने खड़क पुर के IIT कॉलेज से अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की

इन्होने अपनी MS की डिग्री स्तान्फोर्ड यूनिवर्सिटी से प्राप्त की यही पर इन्हें सिएबेर स्कॉलर और पामर स्कॉलर का नाम भी दिया गया

 

सुंदर पिचाई का गूगल (Google) में सफ़र 

सुंदर पिचाई गूगल में काम करने से पहले प्रोडक्ट मैनेजमेंट और एप्लाइड मैटेरियल्स पे काम करते थे उन्होंने Mckinsey की कंपनी में काम किया था

सुंदर पिचाई ने 2004 में गूगल से जुड़े जहाँ पर पहले उन्होंने गूगल टूल बार पर काम किया

सुन्दरर पिचाई को इस बात का अंदाज़ा था, की गूगल के पास उसका सर्च इंजन न होने के कारण गूगल को दिक्कत हो सकती है

उन्होंने उस समय के CEO को गूगल का सर्च इंजन बनाने का प्रस्ताव भी दिया था पर उस समय उनको मना कर दिया गया जिसके बाद गूगल को काफी घाटा सहना करना पड़ा

जिसके बाद गूगल के लिए उसका खुदका सर्च इंजन बनाने का प्रोजेक्ट दिया गया सुन्दर पिचाई और उनकी टीम ने ही मिलके गूगल क्रोम को बनाया,

जिसके बाद गूगल सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला सर्च इंजन बन गया

गूगल ड्राइव और गूगल OS भी सुन्दर पिचाई के ही प्रोजेक्ट थे जिसके बाद उनकी काबिलियत को देखते हुए उन्हें गूगल के और बहुत से प्रोजेक्ट्स में हिस्सा दिया गया

गूगल पिचाई ने जीमेल (GMAIL) और गूगल मैप्स  (GOOGLE MAP) जैसे बड़े बड़े और एहम प्रोजेक्ट को भी गाइड किया

2009 में सुंदर पिचाई क्रोम OS का एक नमूना पेश किया इसके बाद 2011 में क्रोम बुक का ट्रायल लिया गया और इसे लोगो के लिए अपलोड कर दिया गया

13 मार्च 2013 को सुंदर पिचाई ने एंड्राइड को भी गूगल के प्रोडक्ट की लिस्ट में डाल दिया ताकि गूगल एंड्राइड को भी मैनेज कर सके

 सुंदर पिचाई  10 अगस्त 2015 को गूगल के अगले CEO के लिए चुना गया 

अगस्त 2017 में सुंदर पिचाई वर्ल्ड इन्टरनेट कांफ्रेंस में स्पीकर बने, इन्हें कई और बड़ी-बड़ी कंपनियों के ऑफर आये पर गूगल ने इन्हें कभी जाने नही दिया और यह आज गूगल का एक चेहरा है

2019 में सुंदर पिचाई अल्फाबेट के CEO भी बन गए

2020 में सुन्दर पिचाई ने सिंगापूर में एक भाषण दिया जहाँ पर उन्होंने डिजिटल इकॉनमी के बारे में बताया, सुन्दर पिचाइ के योगदान के कारण ही आज गूगल इतनी मजबूत कंपनी बन पायी है

अब तो आप जान ही गए होंगे की गूगल का CEO कौन है और कैसे बना

 

सुंदर पिचाई के पसंदीदा चीज़ें

  • उन्हें बॉलीवुड से उनकी सबसे पसंदीदा अभिनेत्री दीपिका पादुकोण है
  • सुंदर पिचाई को क्रिकेट और फुटबॉल सबसे अधिक पसंद है
  • इन्हें सबसे पसंदीदा फुटबॉल प्लयेर लिओनेल मेस्सी है
  • इनके क्रिकेट में सबसे पसंदीदा प्लेयर सचिन तेंदुलकर है
  • इनका सबसे पसंदीदा अखबार दा वाल स्ट्रीट जर्नल है

सुन्दर पिचाई का संघर्ष

वह किसी बहुत अमीर परिवार से नही थे और एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया भी की उनके पिता ने उनके पूरे साल की तनख्वाह उनकी प्लेन की टिकेट खरीदने में लगा दी, ताकि वह Stanford जा पाए उन्होंने ये भी बताया की यह उनका पहली बार था जब वह प्लेन में बैठे थे

उन्होंने ये भी बताया की अमेरिका से इंडिया फ़ोन करके एक मिनट बात करने की कीमत 2 डॉलर थी जोकी उनके पिता की एक महीने की सैलरी के बराबर थी

उन्होंने ये भी बताया की उनके समय में उन्हें टेक्नोलॉजी ज्यादा चलाने और देखने को भी नही मिलती थी

पर आजके समय के बच्चे टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए है उन्होंने बताया की अमेरिका आने से पहले उनको रोजाना कंप्यूटर चलाने को भी नही मिलता था

उहोने ये भी बताया की जब बहुत समय के बाद उनके घर टीवी लगा तो उसपे भी बस एक ही चैनल आता था

सुंदर पिचाई गूगल से जब जुड़े तब वह गूगल के टूल्स पर काम करते थे उन्होंने अपना पहला Project भी इसी से जुडा हुआ किया

इसके बाद पिचाई ने गूगल को खुदका सर्च इंजन बनाने को भी कहा, क्योंकि हालत बदल रहे थे और अगर गूगल का खुदका सर्च इंजन नही होगा तो जिन कंपनियों के पास सीर्चं इंजन होगा वह गूगल से आगे निकल जाएँगी

इसी समझदारी और आगे की सोच ने सुंदर पिचाई  को गूगल के सर्च इंजन पर काम करने का मौका दिया इसी Project ने गूगल, सुंदर पिचाई और हम सब की ज़िन्दगी बदल दी क्योंकि इसी Project का परिणाम है क्रोम

क्रोम एक बहुत ही ताकतवर सर्च इंजन है, इसके बाद सुंदर पिचाई गूगल को बड़े बड़े इनोवेटिव आईडिया देते गए और उसपे लगन से काम करते गए जिससे गूगल आज दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है

गूगल का CEO बनने के बाद भी सुंदर पिचाई ने गूगल को और कामियाबी तक पहुचाया है जिसके कारण आज वह गूगल का एक चेहरा बन गए है

 

सुन्दर पिचाई के बारे में कुछ तथ्य

  1. सुन्दर पिचाई और उनकी पत्नी अंजलि पिचाई के दो बच्चे है और उन्होंने एक कुत्ता भी पाला है
  2. सुंदर पिचाई का कैलिफ़ोर्निया में एक घर भी है
  3. सुन्दर पिचाई की पत्नी का अपना खुदका एक बहुत शानदार करियर है
  4. सुंदर पिचाई को क्रिकेट और फुटबॉल बहुत पसंद है
  5. गूगल क्रोम Google Ke CEO सुंदर पिचाई का आईडिया था
  6. सुंदर पिचाई तमिलनाडु से है
  7. यह 2 कमरे वाले अपार्टमेंट में बड़े हुए है इन्होने अपनी ज़िन्दगी में पैसो की समस्या का भी सामना किया है पर अपनी लगन और अपने जूनून के कारण आज वह गूगल के CEO है
  8. उनके पास काफी सारी डिग्री है वह बचपन से ही बहुत ही कमाल के बच्चे थे उनकी आगे की सोच और उनकी कोशिशों ने आज दुनिया को बदल दिया है और हम भारत वासियों के लिए वह एक प्रेरणा है
  9. यह गूगल ड्राइव को बनाने में ही सहायक है
  10. उन्होंने गूगल में काम करते एक कर्मी को काम से निकाल दिया था क्योंकि उस कर्मी ने कहा था की लडको और लड़कियों को बराबर का मौका नही देना चाहिए क्योंकि वह बायोलॉजिकल तरीके से समान नही होते इसपे उन्हें निकालते हुए सुंदर पिचाई ने कहा था की उनकी यह सोच उनको इस फील्ड में काम करने के लायक नही बनाती है
  11. सुंदर पिचाई को माइक्रोसॉफ्ट का CEO बनने का भी ऑफर आया था पर उन्होंने खुद भी इसके लिए मना कर दिया और गूगल को बनाने वाले भी सुन्दर पिचाई को जाने नही देने वाले थे
  12. एंड्राइड एक ऑपरेटिंग सिस्टम है iphone को छोड़ के बाकी सब फ़ोन एंड्राइड पर ही चलते है सुंदर पिचाई ने एंड्राइड को भी गूगल के प्रोडक्ट की गिनती में शामिल कर लिया जिससे गूगल को रिसर्च करने में और सहायता हुई
  13. सुंदर पिचाई को उनके द्वारा डायल किये हुए सारे फ़ोन नंबर याद है
  14. सुंदर पिचाई को पॉलिटिक्स से दूर रहना ही पसंद है
  15. सुंदर पिचाई को उनकी बोलने के तरीके से और सोचने के तरीके से जाना जाता है
  16. पिचाई का सबसे बड़ा तोअफा उनकी और जानने की इच्छा और दुनिया को बदल देने का जज्बा था जिसने आज गूगल को खड़ा करके रखा है

 

सुंदर पिचाई में ऐसा क्या था जिसने उन्हें इतना बड़ा इंसान बनाया 

सुंदर पिचाई कोई हम सबसे अलग इंसान नही थे और न ही गूगल कोई ऐसी कंपनी है जिसमे कोई कमी न हो बस फरक इतना है की सुंदर पिचाई ने वो काम किया जो उनको पसंद था

जहाँ उनका मन लगा उन्होंने उस काम को निष्ठा और इमानदारी से किया और अपनी जानने की इच्छा को दबाने की जगह और बढाया जिससे वह आज भारत से अमेरिका तक का सफ़र तय कर पाए

जिस समय सुंदर पिंचाई गूगल से जुड़े उस समय गूगल भी कोई बहुत बड़ी या बहुत कामयाब कंपनी नही थी वह आगे तो थी सबसे पर उसकी जगह कभी भी और कंपनियों के द्वारा छीनी जा सकती थी

पर गूगल में काम करने वाले लोगों और सुंदर पिचाई की सोच ने गूगल को आज गूगल बनाया है

सुंदर पिचाई ने कभी गूगल के साथ धोखा नही किया बदले में गूगल ने भी सुंदर पिचाई का आदर किया और उनको वह जगह दी जिसके वह हकदार थे | इस प्रकार भारत का आदमी गूगल का CEO बना

 

FAQs – Google के CEO कौन है इन हिंदी 

Q. वर्तमान में गूगल का CEO कौन है

2015 से अभी तक गूगल के ceo सुंदर पिचाई ही है

Q. गूगल का सीईओ कितना कमाता है

गूगल के CEO की हर साल के सैलरी 100 करोड़ रुपये है और सुंदर पिचाई की सैलरी तो 200 करोड़ के आसपास है

Q, सुंदर पिचाई गूगल के CEO क्यों है 

गूगल के सबसे बड़े project गूगल क्रोम, गूगल मैप्स, गूगल ड्राइव आदि सुंदर पिचाई के नेत्रित्व में हुए उनकी काबिलियत को देखते हुए उन्हें गूगल का ceo बना दिया गया ऐसा कह सकते है की सुंदर पिचाई ने अपनी काबिलियत और इमानदारी से इसको कमाया है

Q, दुनिया में सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाला CEO कौन है 

दुनिया में सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले ceo बने क्योंकि जबसे उन्होंने गूगल के साथ अल्फाबेट को संभालना भी शुरू किया है तबसे उनकी सैलरी में बढौतरी हुई है जिससे वह दुनिया में सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले ceo बन गए

Q, क्या सुंदर पिचाई इंडियन है 

उनके नाम से ही पता चलता है की सुंदर पिचाई एक इंडियन है इनका जन्म तमिलनाडु के चेन्नई में हुआ था इन्होने अपना बचपन और पढ़ाई भी भारत से ही की है

Q. अल्फाबेट कंपनी का मालिक कौन है 

इस समय अल्फाबेट गूगल के अन्दर आती है अर्थात गूगल ही इस समय अल्फाबेट का भी मालिक है

 

Conclusion

इस ब्लॉग लेख में आपने  गूगल के सीईओ कौन है के बारें में जाना। आशा करते है, आप Google ka CEO kaun Hai की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

अगर आपका इससे संबन्धित किसी भी तरह का सवाल है तब नीचे कमेन्ट में पूछ सकते है जिसका जवाब जल्द से जल्द दिया जायेगा।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी शेयर करना चाहिए तो इसे सोश्ल मीडिया पर सबके साथ इसे साझा अवश्य करें। शुरू से अंत तक इस लेख को पढ़ने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…

Leave a Comment

error: Content is protected !!