JIT Payment (2022) JIT Payment Status Check

JIT Payment – यह एक ऐसा ई-पेमेंट प्लेटफॉर्म है जिसकी मदद से किसानों को समय पर ऑनलाइन सेवा भुगतान करने के लिए सहायता प्रदान करता है। JIT Payment को Just – in – time के नाम से भी जाना जाता है।

जिसका हिन्दी में अर्थ “सही समय पर” होता है। इसके जरिये किसानो श्रम शुल्क, ट्रांसपोर्टरों को परिवहन शुल्क, वेयरहाउस शुल्क, लोडिंग शुल्क, उतराई शुल्क और हैंडलिंग शुल्क इत्यादि का भुगतान ऑनलाइन तेजी से किया जाता है।

जेआईटी एक प्रकार का ऑनलाइन भुगतान पोर्टल और ई-पेमेंट प्रणाली है। जो सरकार द्वारा किसानों को MSP (Minimum Support Price) पर खरीदी गई कई प्रकार के फसलों का भुगतान जेआईटी सिस्टम के जरिये तुरंत कर देती है।

किसान भाइयों के लिए जेआईटी पेमेंट सिस्टम पोर्टल के बारें में जानना बहुत आवश्यक हो जाता है क्योंकि, इसके जरिये उनके द्वारा बेची गई फसलों का भुगतान लेने के लिए अनुरोध कर सकर्ते है और उसका स्टेटस भी देख सकते है

साथ ही कई प्रकार के कार्य को भी jit payment के जरिये किया जा सकता है। अगर आपको Just In Time e-Payment Platform के बारें में कुछ भी जानकारी नही है

तब इस ब्लॉग लेख में आपको JIT Payment का मतलब क्या हैं – JIT Payment Status Check 2022 के बारें में विस्तृत जानकारी मिलने वाला है जिसमें इससे संबन्धित सभी प्रकार जानकारी को प्राप्त कर उसका उपयोग किया जा सकता है।

 

JIT Payment Status Check
what is JIT Payment – How to check JIT Payment Status Check

 

JIT Payment क्या है – JIT Payment Status Check in Hindi

जेआईटी, किसानों को ई-भुगतान की सुविधा के लिए एनआईसी द्वारा जस्ट इन टाइम ई-पेमेंट प्लेटफॉर्म सिस्टम को डेवेलप किया गया है। जिसकी मदद से किसानों से सरकार द्वारा खरीदी गई मिनिमम सपोर्ट प्राइज़ पर फसलों का भुगतान करने का एक अंतिम चरण है।

पोर्टल का नाम JIT Payment Portal
जेआईटी पोर्टल ट्रैक किसान भुगतान स्थिति
मोड ऑनलाइन
योजना एमएसपी पर फसल बेचना
आधिकारिक वेबसाइट www.jit.nic.in

साधारण शब्दों में कहें तो किसान द्वारा राज्य या केंद्र सरकार को बेची गई फसलें जैसे – गेंहू, धान, मक्का, अरहर, ज्वार, चना, सरसों, कई प्रकार के सब्जी का भुगतान ससमय पर करने के लिए जेआईटी यानि जस्ट इन टाइम का उपयोग किया जाता है।

जो एक प्रकार का ई-पेमेंट पोर्टल है जो खासतौर पर सिर्फ किसानों के हीत के लिए ही बनाया गया है जिसका मुख्य काम हमारें देश के किसानों द्वारा बेची गई समर्थन मूल्य पर फसलों का भुगतान ऑनलाइन कर उनके बैंक अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करना है।

दूसरे शब्दों में कहें तो, जस्ट-इन-टाइम (JIT) इन्वेंट्री सिस्टम एक प्रबंधन रणनीति है जो आपूर्तिकर्ताओं से कच्चे माल के ऑर्डर को सीधे प्रोडक्शन शेड्यूल के साथ संरेखित करती है। इसके अलावा जस्ट-इन-टाइम मैन्युफैक्चरिंग को टोयोटा प्रोडक्शन सिस्टम (TPS) के रूप में भी जाना जाता है

 

JIT का मतलब – JIT Payment Full Form

JIT का पूरा नाम Just in Time (जस्ट इन टाइम) होता है जिसे हिन्दी में “सही समय पर” बोला जाता है। जो एक प्रकार का ऑनलाइन सरकारी पेमेंट सिस्टम है जो किसानों द्वारा बेची गई उनके आनाज का भुगतान ऑनलाइन किया जाता है।

मैन्युफैक्चरिंग और लॉजिस्टिक्स की दुनिया में, जस्ट इन टाइम (JIT) इन्वेंट्री मैनेजमेंट कंपनियों और सरकारों  को स्टोरेज कॉस्ट कम करने और क्वालिटी में सुधार करने में मदद करता है।

किसानों द्वारा बेची गई फसलों को भी लॉजिस्टिक्स प्रक्रिया से गुजरना होता है जिस वजह से यह भी जेआईटी के अधीन ही आता है।

 

जस्ट इन टाइम कैसे काम करता है – How Does JIT Payment Portal Work in Hindi

जेआईटी प्रणाली का उद्देश्य एमएसपी योजना के तहत बेची गई फसलों के लिए किसानों को समय पर और नियम-आधारित भुगतान की सुविधा प्रदान करना है।

जेआईटी पोर्टल नियम-आधारित तरीके से श्रम शुल्क, कमीशन, वेयरहाउस, लोडिंग, अनलोडिंग, हैंडलिंग और अन्य शुल्कों को सोसायटी / खरीद केंद्रों और ट्रांसपोर्टरों को परिवहन शुल्क के ई-भुगतान की सुविधा भी देता है।

इस पोर्टल के माध्यम से किसान भुगतान की स्थिति, लेबर चार्ज, सोसाइटी कमीशन, ट्रांसपोर्ट, वेयरहाउस, अनलोडिंग, लोडिंग और हैंडीलिंग करने का पेमेंट का स्टेटस चेक किया जा सकता है साथ ही इसका ePO को भी ट्रैक कर सकते है।

अगर हम JIT Payment Working के बारें में बात करें तो, किसान जब अपनी फसल को मिनिमम सपोर्ट प्राइज़ पर सरकार को बेचने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के बाद जब अपनी आनाज को उस जगह पर ट्रांसपोटेशन की मदद से ले जाते है,

जहां पर सरकार या कंपनी के द्वारा इसका खरीददारी किया जाता है वहाँ पर सबसे पहले लेबर द्वारा फसलों को गाड़ी से अनलोडिंग करने से पहले समर्थन मूल्यों का पर्ची अधिकारी को दिखाना होता है उसके बाद अनाज का वजन कम्प्युटर सिस्टम के द्वारा किया जाता है

और सभी बोड़ी, थैला इत्यादि का डाटा किसान के अकाउंट में जोड़ा जाता है।

जब यह प्रक्रिया समाप्त हो जाता है तब उन्हे जेआईटी पोर्टल के माध्यम से EPO (Electronic Payment Order) भेजा जाता है जिस पर मंडी के प्रभारी को अपना हस्ताक्षर करना होता है।

जब किसान और मंडी / सरकार / कंपनी के बीच फसल खरीदी का प्रक्रिया समाप्त हो जाता है तब अंतिम चरण किसान को अपनी फसल बेचने के बदले सरकार को पेमेंट करना होता है।

इसके लिए अब अधिकारी ईपीओ को ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए किसान के खाता संख्या को बैंक भेज दिया जाता है।

फिर बैंक को सूचना प्राप्त होते ही वह ईपीओ पर लिखी फसल खरीदी का विवरण की जांच करते है और उस पर लिखी राशि को सीधे ऑनलाइन के माध्यम से जेआईटी पोर्टल से किसान द्वारा पहले से पंजीकृत बैंक अकाउंट में पैसा ट्रांसफर कर दिया जाता है।


JIT Payment Portal


JIT Portal Status List पर किसानों के लिए सुविधा

इस पोर्टल पर कई प्रकार की भुगतान की स्थिति को बड़ी ही आसानी से ट्रैक किया जा सकता है जिसमें प्रमुख रूप से किसान भुगतान की स्थिति है इसके अलावा समर्थन मूल्यों पर बेची गई फसलों की खरीद-बिक्री करने में कई और लोगो और प्रणाली का योगदान होता है जैसे –

  • किसान भुगतान की स्थिति
  • लेबर चार्जेस – भुगतान को ट्रेक करे
  • सोसाइटी कमीशन – भुगतान को ट्रेक करे
  • ट्रांस्पोर्टर – भुगतान को ट्रेक करे
  • वेयरहाउस – भुगतान को ट्रेक करे
  • अनलोडिंग – भुगतान को ट्रेक करे
  • लोडिंग – भुगतान को ट्रेक करे
  • हैंडिलिंग – भुगतान को ट्रेक करे
  • सोसाइटी कमीशन के भुगतान ePO को ट्रेक करे

 

JIT Payment Status Check Online 2022 – जेआईटी पेमेंट स्टेटस

अगर आप भी एक किसान है और अपनी फसल को सरकार को एमएसपी के माध्यम से बेच चुके है और अब बस अपनी फसल के बदले अपनी बैंक अकाउंट में पैसा आने का इंतेजार कर रहें है। इसके लिए आपको कहीं और जाने की अवश्यकता नही है

इस काम को आप अपनी मोबाइल की मदद से भी कर सकते है। इसके लिए बस आपको अपनी पंजीकृत बैंक खाता संख्या और किसान कोड या रजिस्ट्रेशन नंबर की आवश्यकता पड़ता है।

जिसके माध्यम से जेआईटी पेमेंट स्टेटस को बड़ी ही आसानी से चेक किया जा सकता है।

 

स्टेप 1 – जेआईटी पेमेंट पोर्टल खोले

इसके लिए आपको अपने मोबाइल के किसी भी ब्राउज़र में JIT Payment Portal टाइप करके सर्च करना है।

जहां पर किसान को उनके फसल की भुगतान का पेमेंट स्टेटस चेक करने के लिए दो ऑप्शन दिया हुआ रहता है

  1. बैंक अकाउंट नंबर के माध्यम से भुगतान की स्थिति देखे
  2. किसान कोड के माध्यम से भुगतान की स्थिति देखे

JIT Payment Status Check


फिलहाल आपके पास जो भी पंजीकृत बैंक अकाउंट नंबर या किसान आईडी कोड है इनमे से किसी एक का इस्तेमाल करके अपनी भुगतान की स्थिति को चेक किया जा सकता है।

 

स्टेप 2 – किसान भुगतान की स्थिति चेक करें

अब अगर आपके अपना पंजीकृत बैंक अकाउंट नंबर या किसान आईडी कोड है और आपने अपनी फसल को एमएसपी पर बेचा है और उसका भुगतान की स्थिति चेक करना चाहते है तब आपको पहला बैंक ऑप्शन के किसान भुगतान की स्थिति वाली लिंक पर क्लिक करना होगा।


JIT Payment (2022) JIT Payment Status Check


स्टेप 3 – भुगतान की स्थिति जाने

जैसे ही आप उस लिंक पर क्लिक करेंगे, वैसे ही आपके सामने एक छोटा-सा फॉर्म खुलकर सामने आ जाएगा, जिसमें आपको पहले वर्ष / सत्र का चुनाव करना होगा कि आपने किस सत्र में अपनी फसल को बेचा था।

उसके बाद वह किस प्रकार की फसल रबी या खरीफ फसल थी उसको सेलेक्ट करें या All का ही ऑप्शन रहने दें, फिर अंतिम में अपना पंजीकृत बैंक अकाउंट नंबर या युनीक 12 अंकों का किसान आईडी को दर्ज करने के बाद दिख रहा कैपचा कोड को बॉक्स में दर्ज कर भुगतान की स्थिति जाने बटन पर क्लिक करें।


JIT Payment (2022) JIT Payment Status Check


जैसे ही आप ऊपर में दिया गया सभी स्टेप्स को फॉलो करते है वैसे ही आपके सामने फसल का Received ID, ePayment order ID, Acceptance No. किसान का नाम, बैंक शाखा का IFS कोड, बैंक खाता नंबर, स्वीकृत मात्रा, भुगतान की राशि, दर, बैंक UTR No., भुगतान दिनांक और भुगतान की स्थिति शो होने लग जाएगा।

जिसमें देखा जा सकता है कि आपके फसल का भुगतान सरकार के द्वारा किया गया है या नही। अगर आपके पास अपनी बैंक अकाउंट नंबर या किसान कोड नही है तब अपना नाम से भी अपनी फसल भुगतान की स्थिति को चेक किया जा सकता है।

बस इसके लिए JIT Payment Search by Name वाली लिंक पर आपको क्लिक करना है। जिसके बाद वहाँ बस सत्र, फसल और अपना नाम दर्ज करके अपनी भुगतान का स्टेटस देखा जा सकता है।

 

JIT Payment Portal पर Digital Signature Certificate अपलोड कैसे करे?

डिजिटल सिग्नेचर को करने के लिए आपको डिजिटल सिग्नेचर टोकन को बनवाना होता है साथ ही EPO (Electronic Payment Order) पर डिजिटल सिग्नेचर करने से पहले आपको डिजिटल सिग्नेचर सर्टिफिकेट को जेआईटी पेमेंट पोर्टल पर अपलोड करना होता है: –

  1. जेआईटी पोर्टल पर डिजिटल सिग्नेचर अपलोड करने के लिए सबसे पहले आपको अपने किसी भी डिवाइस जैसे लैपटॉप या कंप्यूटर के साथ यूएसबी पोर्ट को अटैच करना होगा।
  2. अब लैपटॉप में डिजिटल सिग्नेचर टोकन नाम का सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करना होगा और जब यह प्रक्रिया पूर्ण हो जाएँ तब इसे ओपेन करें।
  3. इसके बाद सॉफ्टवेयर में लॉगिन बटन पर क्लिक कर लॉगिन हो जाएँ, अगर आपके पास अपना अकाउंट नही है फिर अपनी ईमेल आईडी की सहायता से एक नई अकाउंट को बनाएं।
  4. फिर उसके बाद User Certificate वाली ऑप्शन को सेलेक्ट करें और Export बटन पर क्लिक करें। जिससे आपका डिजिटल सिग्नेचर सर्टिफिकेट डेस्कटॉप पर सेव हो जाएगा।
  5. अब इस प्रक्रिया के समाप्त होते ही JIT Payment Website पर अपनी username और password की सहायता से Login करें।
  6. जिसके बाद राइट साइड में दिख रहा Main Menu पर क्लिक करने के बाद DSC Mgmt. पर क्लिक करें।

    JIT Payment Portal in hindi


  7. अब आपको Registration Menu में Functionaries Authorized for e-Payment by Office and their DSCs पर Click करना होगा। फिर आगे Authorized for e-Payment Office का चयन करे।
  8. जिसके बाद आपके सामने सर्टिफिकेट अपलोड करने का ऑप्शन आ जाएगा। आपको बस choose file पर क्लिक करके अपने लैपटॉप में सेव किया गया डिजिटल सर्टिफिकेट को सेलेक्ट कर Get Details पर क्लिक करें।
  9. पिछला स्टेप्स को पूरा करते ही आपके अकाउंट और प्रणामपत्र की सभी जानकारी शो होने लग जाएगा। बस आपको उसे ध्यानपूर्वक सही तरीका से देखना है और सभी जानकारी का मिलान करना है।
  10. फिर अंतिम में Updated DSC File बटन पर क्लिक करते ही आपका डिजिटल signature certificate अपलोड हो जाएगा, जिसका स्टेटस स्क्रीन पर देखा जा सकता है।

 

JIT EPO पर Digital Sign कैसे करें

एक अधिकारी के रूप में जब आप अपनी नाम का डिजिटल सिग्नेचर सर्टिफिकेट बनवा लेते है और उसका प्रयोग करते हुये किसान के ईपीओ पर ऑनलाइन ही अपना हस्ताक्षर करना चाहते है तब आप नीचे दिया गया सभी स्टेप्स को फॉलो करके इसे कर सकते है: –

  1. इसके लिए आपको सबसे पहले अपनी अधिकारी Username और Password की सहायता से JIT Payment Portal पर Login करना होगा।
  2. जिसके बाद राइट साइड में देखा रहा मुख्य मेनू में दिया गया बटन Farmer E-Payment Mgnt System पर क्लिक करना होगा।
  3. फिर आपके पास एक न्यू पेज ओपेन होकर आ जाएगा जिसमें E-Payment Orders मेनू में Lock e-PO पर क्लिक करना होगा।
  4. जब आप ऊपर में दिया गया स्टेप्स को फॉलो कर लेते है तब आपको एक पॉपअप मैसेज में “क्या आप इस ई-भुगतान को लॉक करना चाहते हैं” पूछा जायेगा तो आप OK पर क्लिक करें।
  5. अब Payment Order has been Locked Successfully मैसेज आएगा इसमें फिर से OK पर क्लिक करें।
  6. फिर आपको Sign ePO मेनू में Digitally Sign e-PO पर क्लिक करना होगा।
  7. ePO Digitally Sign करने के लिए निचे दिया गया Sign ePO वाले बटन पर क्लिक करें।
  8. अब आपसे अधिकारी नेम और उनका पद को सेलेक्ट करने का ऑप्शन दिखेगा, जिसकी मदद से farmer epo पर digital sign किया जा सकता है।

    JIT Payment Portal in hindi


  9. फिर ePO File Signed Successfully का मैसेज आयेगा और ePO सफलतापूर्वक sign हो गया हैं। Digitally Signed File को बैंक Processing के लिए Save DCS Signed File for Bank Processing पर क्लिक करे

    JIT Payment (2022) JIT Payment Status Check


  10. इस तरह JIT Payment EPO Digital Signature को किया जा सकता है अगर इसे प्रिंट करना चाहते है तब आपको Sign ePO मेनू में View / Print Digitally Signed ePO पर क्लिक करना होगा।

 

E Uparjan 2021 22 Payment

किसानो द्वारा बेची गई फसलों या मजदूरों द्वारा किया गया मजदूरी का E Uparjan 2021 22 Payment status जानने के लिए आपको JIT Portal पर आना होगा।

इसके लिए नीचे दिया गया स्टेप्स को फॉलो करें: –

  1. अगर आप किसान के अलावा लेबर चार्जेज़, सोसाइटी कमीशन, ट्रांसपोर्टर, वेयरहाउस, लोडिंग, अनलोडिंग और हैंडीलिंग भुगतान की स्थिति जानना चाह रहें है।
  2. तब उसके लिए आपको सबसे पहले JIT Payment Website पर जाना होगा। जहां पर आप जिस भी भुगतान की स्थिति जानना चाहते है
  3. उसके भुगतान ट्रेक करने बटन पर क्लिक करें। उदाहरण के लिए जब आप लेबर चार्जेज़ – भुगतान को ट्रैक करना चाहते है और उसके लिंक पर क्लिक करते है
  4. तब आपके सामने एक न्यू पेज में फॉर्म ओपेन होकर आ जाएगा।

    What is JIT payment in hindi


  5. जहां पर आपको अपनी बैंक अकाउंट नंबर या खरीदी केंद्र कोड को डालने के बाद कैपचा कोड को फ़िल करना होगा।
  6. फिर अंतिम में भुगतान की स्थिति जाने बटन पर क्लिक करते ही आपका E Uparjan 2021 22 Payment status दिख जाएगा।

 

FAQ’s – JIT Payment (Just in Time) e Payment

Q. Just in time e-payment jila sahkarita

अगर आप जानना चाहते है कि आपके जिला के कितने किसानों ने समर्थन मूल्यों पर एमएसपी के माध्यम से सरकार को अपनी फसल बेचा है उसके लिए आपको JIT किसान पर जाने के बाद वहाँ जिला का नाम, किसानों की संख्या, मात्रा, राशि इत्यादि को देखा जा सकता है।

Q. जेआईटी पोर्टल का मुख्य लाभार्थी कौन है?

इस पोर्टल का मुख्य लाभार्थी वैसे किसान है जो एमएसपी पर अपनी फसल को डायरेक्ट सरकार को समर्थन मूल्यों पर बेचते है साथ ही इनके अलावा सरकारी मंडी में कार्य कर रहें मजदूर और लॉजिस्टिक्स मजदूर और कंपनी शामिल है।

Q. JIT Payment Portal क्या है?

जेआईटी पोर्टल एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जो सभी किसानों को अपने उत्पाद बेचने की अनुमति देता है। उनकी जेआईटी पेमेंट स्टेटस देखने के लिए एमएसपी योजना के तहत उनकी फसलों की समर्थन मूल्यों का जांच किया जा सकता है।

Q. JIT Portal में शामिल फसलों का नाम

इसमें मुख्य रूप से JIT Portal के माध्यम से केवल गेहु, धान, ज्वार, चना, मसूर एवं सरसों खरीदी संबंधी भुगतान ऑनलाइन किया जाता है।

 

Conclusion

इस ब्लॉग लेख में आपने JIT Payment पोर्टल क्या है के बारें में जाना। आशा करते है आप JIT Payment Portal : Just In Time e-Payment (jit.nic.in) की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

अगर आपका इससे संबन्धित किसी भी तरह का सवाल है तब नीचे कमेन्ट में पूछ सकते है जिसका जवाब जल्द से जल्द दिया जायेगा।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी शेयर करना चाहिए तो इसे सोश्ल मीडिया पर सबके साथ इसे साझा अवश्य करें। शुरू से अंत तक इस लेख को पढ़ने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…

1 thought on “JIT Payment (2022) JIT Payment Status Check”

Leave a Comment

error: Content is protected !!